एमवायएच में 11 दिन बाद ब्लैक फंगस से एक मरीज की मौत

ब्रह्मास्त्र  इन्दौर। महाराजा यशवंतराव (एमवाय) अस्पताल में 11 दिन बाद शुक्रवार को ब्लैक फंगस एक मरीज की मौत हुई। इसके पहले 19 जुलाई को भी ब्लैक फंगस से संक्रमित एक मरीज की मौत हुई थी। पिछले एक माह में अब तक ब्लैक फंगस से दो मरीजों की मौत हो चुकी है। एमवायएच में ब्लैक फंगस से अब 55 लोगों की मौत हो चुकी है।
एमवाय अस्पताल में ब्लैक फंगस के उपचार के लिए भर्ती मरीजों की संख्या में कमी आई है। पिछले कुछ दिनों से जहां 100 अधिक मरीज अस्पताल में भर्ती थे। वहीं अब एमवायएच में ब्लैक फंगस के 92 मरीज ही भर्ती है। शुक्रवार को एमवायएच में ब्लैक फंगस का एक ही नया मरीज भर्ती हुआ। वर्तमान में यहां पर अभी 92 मरीज भर्ती हुए। शुक्रवार को ब्लैक फंगस के छह मरीजों की सर्जरी और अन्य किसी मरीज की एंडोस्कोपी नहीं हुई। अब तक एमवायएच में 869 मरीजों की सर्जरी और 1360 की एंडोस्कोपी हो चुकी है।
शुक्रवार को अस्पताल से स्वस्थ होकर एक मरीज अपने घर गया। अभी तक अस्पताल से 595 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं। वर्तमान में अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए 1678 एंटी फंगल इंजेक्शन उपलब्ध है। एमवायएच में लंबे समय से ब्लैक फंगस से संक्रमण मरने वालों की संख्या पहले के मुकाबले कम हुई है। हालांकि एक माह में दो मरीजों की मौत होने से अस्पताल की व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं। अस्पताल प्रबंधन के मुताबिक एमवायएच में भर्ती ब्लैक फंगस के मरीजों को उचित उपचार किया जा रहा हैं। जिन मरीजों में संक्रमण बढ़ रहा है। उनकी ही मौत हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *