मंदसौर शराबकांड: आंखों की रोशनी गंवाने वालों का एमवाय में चल रहा इलाज

ग्रामीणों ने बताया 11 लोगों की मौत, एसआईटी ने की 7 की पुष्टि

ब्रह्मास्त्र इंदौर। मंदसौर में जहरीली शराबकांड में आंखों की रोशनी गंवाने वाले 2 लोगों का इलाज एम वाय अस्पताल में चल रहा है। उधर मंदसौर में इस शराब कांड की जांच के लिए एसआईटी की टीम मंदसौर पहुंची थी। एसआईटी की टीम खखराई गांव, पुलिस थाना पिपलिया मंडी सहित सरकार और निजी अस्पताल भी पहुंची। जहां उन्होंने भर्ती मरीजों के बयान लिए। इस दौरान टीम ने मृतकों के परिजनों से भी बात की। मौके का दौरा करने के बाद एसआईटी ने 7 मौतों की पुष्टि की है, जबकि गांववालों का कहना है कि जहरीली शराब पीने से अबतक 11 लोगों की मौत हुई है।
एसआईटी प्रमुख और गृह विभाग के अपर सचिव डॉ राजेश राजौरा ने बताया कि शराब पीने से अब तक 7 संदिग्ध मौतों की पुष्टि हुई है और 6 व्यक्तियों का इलाज जारी है। वहीं, आंखों की रोशनी गंवाने वाले दो लोगों का इलाज इंदौर के एमवाय अस्पताल में किया जा रहा है। फिलहाल यह नहीं कहा जा सकता कि इन दोनों लोगों की आंखों की रोशनी लौट सकेगी या नहीं।
डॉ राजेश राजौरा ने कहा कि मामले में सभी दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। इधर, एसआईटी के मंदसौर पहुंचने के बाद प्रशासन ने माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है। पूरे जिले भर में अवैध शराब के अड्डों और ढाबों पर बुलडोजर चलाए जा रहे है। अभी तक प्रशासन ने अलग-अलग जगहों पर कुल 25 अवैध ढाबे और शराब के अवैध महखानों को तोड़ दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *