डेली कॉलेज के प्रिंसिपल को धमकी – धार महाराज पर केस

बेटे की फीस जमा करने को लेकर हेमेंद्र सिंह पवार ने कॉलेज के हाउस मास्टर सीजो मैथ्यू को धमकाया, कहा- रिजाइन करो वरना खत्म कर दूंगा
इन्दौर। डेली कॉलेज प्रबंधन ने धार के पूर्व महाराज हेमेंद्र सिंह पवार के खिलाफ आजाद नगर थाने में केस दर्ज कराया है। प्रिसिंपल का आरोप है कि कुछ दिन पहले बेटे की बकाया फीस को लेकर उन्होंने स्कूल के हाउस मास्टर मैथ्यू को फोन पर धमकियां दी थीं। स्कूल प्रबंधन ने इसकी आॅडियो रिकॉर्डिंग पुलिस को उपलब्ध करवाई। एएसपी शशिकांत कनकने के मुताबिक, स्कूल प्रिंसिपल नीरज बधौतिया की रिपोर्ट पर पवार के खिलाफ गाली-गलौच और धमकी देने का केस दर्ज किया है।
21 मई को हाउस मास्टर सीजो मैथ्यू द्वारा धार महाराज को किए गए फोन का एक कथित आॅडियो वायरल हुआ है। आॅडियो के मुताबिक, सीजो मैथ्यू द्वारा हेमेंद्र सिंह के आठवीं में पढ़ने वाले बेटे की स्कूल फीस के लिए फोन लगाने पर हेमेंद्र सिंह ने पूछा कि क्या वह अकाउंट्स डिपार्टमेंट से बोल रहा है, जिस पर मैथ्यू द्वारा खुद को हाउस मास्टर बताने के बाद सिंह ने पूछा कि क्या वह यह जनता है कि उसने किसको फोन लगाया है।
इसके बाद उन्होंने अपना परिचय देते हुए कई बार मैथ्यू से पूछा कि उसने किसके कहने पर उन्हें फोन किया है, लेकिन मैथ्यू ने इस बात का कोई जवाब नहीं दिया, जिस पर हेमेंद्र सिंह भड़क उठे। उन्होंने मैथ्यू से माफी मांगने को कहा। साथ ही अपशब्दों का प्रयोग करते हुए मैथ्यू से रिजाइन करने को कहा। स्कूल से रिजाइन नहीं करने पर उसे जान से मारने की धमकी दी, जिस पर मैथ्यू ने माफी मांग ली।
आॅडियो वायरल : मामले ने तूल पकड़
आॅडियो वायरल होने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया और डेली कॉलेज बोर्ड आॅफ गवर्नर्स के निर्देश पर प्रिंसिपल नीरज बेधोतिया ने 12 जून को हेमेंद्र सिंह को एक ई-मेल कर लिखा कि इस तरह का व्यवहार उन्हें शोभा नहीं देता। मैथ्यू से फोन पर हुई बातचीत के अलावा ई-मेल में लिखा गया कि 21 मई की रात आप मुसाखेड़ी गेट से डेली कॉलेज में सिक्योरिटी गार्ड को यह धमकी देते जबरदस्ती घुसे कि मैं सिर धड़ से अलग कर देता हूं और जैसा कि आपने धमकी दी थी, उस अनुसार सीजो मैथ्यू पर हमला करने के लिए उसके क्वार्टर की ओर बढ़े। लिफ्ट में दूसरा हाउस मास्टर मिला, जिसके सामने आपने प्रिंसिपल और बोर्ड आॅफ गवर्नर्स के सदस्यों के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल किया।
यही नहीं अगले दिन स्कूल के बरसर हर्षवर्धन को फोन कर प्रिंसिपल को जान से मार डालने के साथ ही जरूरत पड़ने पर बोर्ड आॅफ गवर्नर्स के अध्यक्ष झाबुआ के पूर्व महाराज नरेंद्र सिंह को भी जान से मार डालने की बात कही। इसके अलावा पिछले साल और 4 साल पुराने एक मामले का भी इस ई-मेल में हवाला दिया गया। साथ ही उनसे 3 दिन में इस पूरे प्रकरण को लेकर जवाब मांगा गया और जवाब से संतुष्ट न होने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की बात लिखी गई। इस ई-मेल का जवाब देते हुए हेमेंद्र सिंह ने लिखा है कि जब समय होगा तब वह अपने लीगल एडवाइजर से बात कर इस का जवाब देंगे। पूरे मामले में शनिवार देर रात एफआईआर दर्ज हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *