बेगमबाग अब पूरी तरह होगा साफ : अब सारे मकान कर दिए जाएंगे जमींदोज

उज्जैन। बेगमबाग अब पूरी तरह साफ हो जाएगा। मुआवजा देने के लिए आवेदन देने की प्रशासन की टाइम लिमिट शुक्रवार शाम को खत्म हो गई। अब आज से प्रशासन उन सभी मकानों को तोड़ना शुरू कर देगा, जिन्हें मुआवजा मिला है या नहीं मिला है। गौरतलब है कि अब तक जितने लोगों ने भी मुआवजा के लिए आवेदन किया है, प्रशासन ने उनके खाते में 3- 3 लाख रुपए डाल दिए हैं। दो-चार दिन में ही बेगमबाग एक उजड़ी हुई बस्ती नजर आएगी, हालांकि यह जो चमन उजड़ेगा तो भविष्य में भगवान महाकाल के मंदिर का सुव्यवस्थित और सुंदर विस्तारीकरण भी हो जाएगा।
गौरतलब है कि बेगमबाग कच्ची बस्ती में शुक्रवार को भी मकान तोड़े गए। इसके पहले गुरुवार को 15 मकान और तोड़े गए। नगर निगम को 33 और रहवासियों ने मुआवजे के लिए अपने खाता नंबर और आवेदन दिए। इन्हें मिला कर गुरूवार तक 113 रहवासी मुआवजे के लिए आवेदन दे चुके थे। जिन लोगों के आवेदन आ गए हैं उनकी शुक्रवार को मुआवजा राशि उनके बैंक खाते में जमा करा दी गई। प्रशासन ने तय किया था कि शुक्रवार को जिनके आवेदन आ जाएंगे उन्हें ही मुआवजा राशि दी जाएगी। शनिवार को सभी मकानों को हटाने के लिए प्रशासनिक कार्रवाई शुरू हो जाएगी। बस्ती के 147 मकान हटाए जाना है। बुधवार तक 80 आवेदन आए थे। 33 ने गुरुवार को दिए। अब 34 और रहवासी बचे हैं, जिन्होंने खाता नंबर और आवेदन नहीं दिए हैं। गुरूवार को एसडीएम संजीव साहू के अनुसार इनके लिए शुक्रवार आखिरी दिन था। जिन्होंने आवेदन नहीं दिए, उन्हें मुआवजा राशि नहीं दी जाएगी।
इनके मकान प्रशासन कार्रवाई कर तोड़ देगा। करीबन 100 मकान तोड़ दिए हैं। इतने ही लोगों के खाते में मुआवजा राशि जमा हो चुकी है। एसडीएम साहू के अनुसार रहवासियों को आखिरी समझाइश देने के बाद शनिवार को बलपूर्वक मकान तोड़े जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *