संडे अनलॉक: वीरानी खत्म ,रौनक लौटी

व्यापारियों में खुशी, सिर्फ एक दिन खुलने से ही बढ़ेगा 30 प्रतिशत इंदौर का कारोबार

अब रविवार को भी हो सकेंगे शादी-ब्याह, रात 8 बजे तक खुलेंगी दुकानें, नाइट कर्फ्यू रात 10 से सुबह 6 तक

ब्रह्मास्त्र इंदौर। संडे अनलॉक होते ही बाजार की वीरानी खत्म हो गई और रौनक लौट आई है। इंदौर में हालांकि राजवाड़ा क्षेत्र में रविवार को बाजार नहीं खुलते हैं, लेकिन मालवा मिल क्षेत्र सहित अन्य स्थानों पर बाजार खुले रहते हैं। इसके अलावा भी कार बाजार जैसे ऐसे कई क्षेत्र हैं , जहां पर संडे को सबसे ज्यादा बिक्री या हलचल रहती है। संडे अनलॉक होने से व्यापारी वर्ग में बेहद खुशी है। कोरोना की दूसरी लहर थमते ही सरकार ने रविवार का लॉकडाउन (कोरोना कर्फ्यू) भी खत्म कर दिया। सिर्फ नगरीय क्षेत्रों में रात्रि के नाइट कर्फ्यू को रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक के लिए बरकरार रखा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की घोषणा के बाद कलेक्टर मनीष सिंह ने रविवार का लॉकडाउन खत्म करने के निर्देश जारी कर दिए।

अब संडे को भी शादी

इस आदेश से दुकानें व सभी बाजार रात 8 बजे तक खुले रह सकेंगे। रविवार को बाकी दिन की तरह शादियां हो सकेंगी, जिनमें दोनों पक्ष के 20-20 व 10 अन्य यानी 50 लोग शामिल हो सकेंगे। होटल 100, रेस्त्रां व बार 50 फीसदी क्षमता के साथ रात 10 बजे तक खुल सकेंगे। हालांकि शराब दुकानें रात 11.30 बजे तक खुली रहेंगी। रविवार का जनता कर्फ्यू खत्म होने से इंदौर के कारोबार में सीधे 30 फीसदी की बढ़ोतरी हो जाएगी। इंदौर में हर दिन औसतन 150 करोड़ का कारोबार होता है, जो सामान्य दिनों में रविवार के समय 300 से 400 करोड़ के बीच में पहुंच जाता है। खासकर रेस्त्रां, इलेक्ट्रॉनिक्स, होम एप्लायंस, कपड़ा बाजार और ऑटो सेक्टर की खरीदी दोगुनी बढ़ोतरी होगी।

माल में बढ़ जाते हैं 3 गुना लोग

मॉल में सामान्य दिनों की तुलना में रविवार को तीन गुना अधिक लोग पहुंचते हैं। चूंकि छुट्टी रहने से सभी के पास खरीदी के लिए पूरा दिन रहता है। आम दिनों की तुलना में दो से तीन गुना अधिक लोग केवल रविवार को आते हैं।

शनिवार – रविवार को होता है 70 फ़ीसदी कारोबार

ज्वेलरी खरीदी में लोग समय निकालकर आते हैं, ऐसे में रविवार सभी के लिए अच्छा समय रहता है। रेस्त्रां, क्लब, बार आदि का तो पूरे सप्ताह का 70 फीसदी कारोबार ही शनिवार-रविवार को होता है। कार आदि वाहनों की खरीदी के लिए रविवार सबसे बेहतर होता है। इस दिन ज्यादा लोग वाहन देखने-खरीदने आते हैं। इससे सेक्टर में तेजी आएगी। रविवार का लॉकडाउन तो खत्म हो गया, पर सभी लोग कोविड प्रोटोकॉल के तहत ही अनलॉक में काम करें। तीसरी लहर की संभावना खत्म नहीं हुई है। अत: लगातार सतर्क रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *