कल से उज्जैन में गूंजेगा जयश्री महाकाल

उज्जैन
महाकालेश्वर मंदिर में सोमवार से श्रद्धालु भगवान के दर्शन कर सकेंगे। आॅनलाइन प्री-परमिशन लेने वाले 3500 श्रद्धालुओं को रोज सुबह 6 से रात 8 बजे तक 7 स्लॉट में दर्शन कराए जाएंगे। परमिशन उन्हीं श्रद्धालुओं को दी जा रही है जिनका वैक्सीनेशन हो चुका है या फिर जो 48 घंटे के भीतर की कोरोना निगेटिव रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। श्रद्धालुओं के लिए 250 रुपए से शीघ्र दर्शन व्यवस्था भी रहेगी। इन्हें भी वैक्सीनेशन या निगेटिव रिपोर्ट की अनिवार्यता का पालन करना होगा। मंदिर समिति के प्रशासक नरेंद्र सूर्यवंशी ने शनिवार को मंदिर में दर्शन व्यवस्था की तैयारी कराई।
दर्शन व्यवस्था में मंदिर समिति के 40 कर्मचारी तैनात होंगे। यह प्रवेश द्वार से निर्गम तक की व्यवस्था संभालेंगे।
सूर्यवंशी ने हरेक कर्मचारी को बुलाकर दर्शन व्यवस्था को लेकर समझाइश दी। उन्होंने कर्मचारियों को समझाया कि किन बातों का ध्यान रखना है और क्या सावधानी बरतना है। मंदिर के सभी कर्मचारियों का वैक्सीनेशन कराने को भी उन्होंने कहा।

4 नंबर गेट से होगा प्रवेश, साफ-सफाई करवाई
सूर्यवंशी ने मंदिर में सफाई और अन्य व्यवस्थाओं की स्थिति भी देखी। मंदिर परिसर की विशेष रूप से सफाई कराई गई है। श्रद्धालुओं को द्वार नंबर 4 से प्रवेश देंगे तथा 5 नंबर द्वार (भस्मआरती द्वार) से निकासी होगी। प्रवेश द्वार पर श्रद्धालुओं के वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट या निगेटिव रिपोर्ट देखने के बाद प्रवेश देंगे।

यह भी जांचा जाएगा कि सर्टिफिकेट या रिपोर्ट उसी श्रद्धालु की है। दूसरे के नाम के दस्तावेज लाने वाले के खिलाफ धारा 188 के तहत कार्रवाई होगी। श्रद्धालुओं को भस्मआरती और शयन आरती में प्रवेश नहीं मिलेगा। नंदीगृह के पीछे बेरिकेड्स से सभी को दर्शन कराए जाएंगे। नंदीगृह व गर्भगृह में भी प्रवेश बंद रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *