अवैध शराब की फैक्ट्री चलाने वाला सरपंच इंदौर व रतलाम से लाता था स्प्रिट

उज्जैन । भैरवगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम बांसखेड़ी में अवैध शराब की फैक्ट्री संचालित करने वाले सरपंच को इंदौर व रतलाम के बदमाश स्प्रिट सप्लाय करते थे। कुछ लोगों के नाम सामने आने के बाद पुलिस ने दोनों शहरों में दबिश देकर कुछ बदमाशों को हिरासत में लिया है। पुलिस ने रासुका लगाकर सरपंच को जेल भेज दिया था। वहां से दोबारा रिमांड पर लेकर उससे पूछताछ की तो उसके घर से 60 लीटर स्प्रिट व नामी शराब कंपनियों के लेबल मिले थे। जिस पर उसे कोर्ट ने छह दिन के पुलिस रिमांड पर सौंपा है।बता दें कि आरोपित सरपंच के रिश्तेदार के खेत से 16 अप्रैल को 8 ड्रमों में भरी 1600 लीटर स्प्रिट मिली थी। सरपंच के घर से 35 किलो यूरिया, 12 बोतल एक साथ भरने वाला नोजल व कुएं से 13 ड्रम मिले थे। पुलिस ने उसके तीन मकान भी तोड़ दिए थे।पुलिस ने बताया कि भेरूगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम सिपावरा स्थित खेत में ग्राम बांसखेड़ी के सरपंच नरेंद्र कुमावत के रिश्तेदार लखन कुमावत के खेत में स्प्रिट से भरे ड्रम रखे होने की सूचना 16 अप्रैल को पुलिस को मिली थी। पुलिस मौके पर पहुंची तो लखन के खेत में 8 स्प्रिट के ड्रम घास में छुपा कर रखे हुए मिले थे। इनमें 1600 लीटर स्प्रिट भरी हुई थी। पुलिस को सरपंच नरेंद्र कुमावत के घर में बोतल भरने का नोजल मिला था। 35 किलो यूरिया भी मिला था। कुए से 13 ड्रम, एक छोटी केन तथा एक थैली मिली थी। पुलिस ने सरपंच पर दस हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। उसके तीन मकान भी जमींदोज कर दिए थे। उसे 25 अप्रैल को गिरफ्तार कर रासुका के तहत जेल भेज दिया था। जहां से उसे दोबारा प्रोडक्शन वारंट पर लाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *