सूदखोर से परेशान युवक ने खुद को लगा ली आग

उज्जैन। कोरोना की वजह शहर में सूदखोरी के मामले कम होने की जगह बढ़ते जा रहे हैं। आर्थिक गतिविधियां बंद होने बौखलाए सूदखोर लोगों को प्रताडि़त कर रहे हैं और लोग आत्मदाह जैसे कदम उठाने लगे हैं। ऐसा ही वाकया कल शाम को गोन्सा में हुआ। यहां सूदखोर की मारपीट से आहत युवक ने आत्मदाह कर लिया है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।पुलिस के मुताबिक 30 साल के बबलू पिता राधेश्याम ने रघुनाथ प्रजापत से 20 हजार रुपए कर्ज लिया था। बबलू के परिजनों का कहना है कि 20 प्रतिशत ब्याज पर कर्ज मिलने पर तय हुआ था कि सारा पैसा ईट भट्टे की मजदूरी में वसूली जाएगा। परन्तु कल रघुनाथ का लड़का निलेश उसके घर आया और पैसे मांगे। जब पैसे नहीं दे पाया तो उसके साथ मारपीट करके मोटरसाइकिल छीनकर ले गया। इससे आहत बबलू ने घर में घासलेट डालकर खुद को आग लगा ली। पड़ोसियों को घर से धुंआ उठता दिखा तो उन्होंने अंदर जाकर पता लगाया तो बबलू को जलते हुए देखा। तत्काल उसके शरीर लगी आग बुझाई और अस्पताल लेकर आए। रात 12 बजे उसकी अस्पताल में मौत हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *