फ्रीगंज में जैन नमकीन की दुकान प्रशासन ने सील कराई

उज्जैन।इतने दिनों के बाद कोरोना कर्फ्यू में प्रशासन ने कुछ दुकानें खोलने की थोड़ी ढील क्या व्यापारियों ने फिर धंधे के लालच में आकर इसका गलत फायदा उठाने की कोशिश की। आखिरकार प्रशासन को इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करना ही पड़ी।1 मई से प्रशासन ने आदेश दिए थे कि शहर में सुबह 8 से दोपहर 12 बजे तक किराने की दुकानें खोली जा सकेंगी जिससे लोग घर की जरूरत का सामान खरीद सके लेकिन फ्रीगंज में जैन नमकीन वाले ने किराने की आड़ नमकीन की ही दुकान खोल ली और लोगों को नमकीन बेचने की तैयारी थी। इस बीच प्रशासन को किसी ने इसकी शिकायत की और तहसीलदार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। शिकायत सही पाए जाने पर अधिकारियों ने तत्काल पंचनामा बनाकर उक्त दुकान को सील करने की कार्रवाई की। लोग कोरोना कर्फ्यू में मिली छूट का गलत फायदा उठाने लगे। यह प्रशासन की गाइड लाइन का उल्लंघन तो है ही ऐसे में ये लोग अपने साथ दूसरों की भी जान खतरे में डाल रहे हैं प्रशासन ने निरीक्षण के दौरान ऋषिनगर व निजातपुरा में दो दुकानें खुली मिलने पर वहां भी कार्रवाई की। जैन नमकीन शुद्ध रूप से नमकीन का ही विक्रय करता है। जबकि प्रशासन ने अभी नमकीन दुकानें खोलने की अनुमति नहीं दी है। प्रशासनिक अमला जब शहर में छूट का जायजा लेने निकला तो कई जगह उन्हें गड़बड़ियां मिली। फ्रीगंज में जैन नमकीन के अलावा ऋषिनगर में शुभम पुस्तक महल नामक दुकान भी खुली पाई गई जो कि किराना या छूट की किसी भी श्रेणी में नहीं आती है।  प्रशासनिक टीम ने उक्त दुकान को भी सील किया। वहीं निजातपुरा में भी बाबा नमकीन एवं एक मिठाई की दुकान खुली दिखने पर तहसीलदार की अगुवाई में टीम ने उसे भी सील करने की कार्रवाई की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *