महाकाल मंदिर के एक और पुजारी की कोरोना से मौत

 

उज्जैन विश्व प्रसिद्द महाकाल मंदिर में भी कोरोना ने दस्तक दी और कोरोना से एक के बाद एक दो पुजारी की मौत हो गयी। आज सुबह महाकाल मंदिर के पुजारी महेश गुरु उस्ताद की मौत की खबर सामने आयी । जिसके बाद महाकाल अमंदिर के पुजारी और पुरोहित परिवार में शोक छा गया , दरअसल महेश गुरु महाकाल मंदिर के पुजारी होने के साथ साथ महाकाल ध्वज चल समारोह के अध्यक्ष भी थी , पिछले छः दिनों से देवास के अमलतास अस्पताल में अपना इलाज करवा रहे महेश गुरु का बुखार ठीक नहीं हुआ तब उन्हें कल ही उज्जैन के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था लेकिन आज सुबह उनकी मौत की दुखद खबर समाने आगयी . कोरोना प्रोटोकॉल के तहत महेश गुरु का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

इससे पहले भी एक पुजारी की हो चुकी है मौत
महाकाल मंदिर के पुजारी चंद्र मोहन का कोरोना संक्रमण के चलते 10 अप्रेल को निधन हो गया था चंद्र मोहन मार्च में कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे जिसके बाद उन्हें इंदौर के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लेकिन उनकी जान भी बचायी नहीं जा सकी थी. इन दिनों महाकाल की नगरी उज्जैन के महाकाल मंदिर में जहां कोरोना संक्रमण से दुनिया को निजात दिलाने के लिए 11 दिवसीय महामृत्युंजय जाप चल रहा है। यहां 70 से ज्यादा पंडे पुजारी दिन-रात जाप कर रहे हैं।

मौत के बाद भी पुजारी बेखौफ , दो पुजारी पर मामला दर्ज

महाकाल मंदिर के पुजारी, पुरोहित कोरोना नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। मंदिर प्रशासन को अंधेरे में रखकर कई पुजारी, पुरोहित मंदिर में चल रहे अतिरूद्र अनुष्ठान में भी शामिल हो रहे हैं। शनिवार को मंदिर प्रशासन ने एक सहायक पुजारी व एक पुरोहित के विरुद्ध धारा 188 के तहत प्रकरण दर्ज कराया है। दोनों का मंदिर में प्रवेश भी प्रतिबंधित कर दिया गया है।सहायक प्रशासक मूलचंद जूनवाल ने बताया सहायक पुजारी शैलेंद्र शर्मा व पुरोहित अजय शर्मा के परिवार में कुछ सदस्य कोरोना संक्रमित हैं। नियमानुसार दोनों को होम क्वारंटाइन में रहना था लेकिन दोनों पुजारी, पुरोहित मंदिर आ रहे हैं। यही नहीं मंदिर में चल रहे अतिरूद्र अनुष्ठान में भी शामिल हो रहे हैं। उनके विरुद्ध धारा 188 के तहत कार्रवाई की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *