दो दर्दनाक हादसों में चार की मौत, तेज रफ्तार डंपर ने ली स्कूटी सवार मां बेटी की जान

गुरुवार सुबह दो दर्दनाक हादसों में दो परिवार के लोग काल के ग्राफ में समा गए। उज्जैन के शंकरपुर में तेज रफ्तार डंपर ने स्कूटी सवार महिला और 4 साल की बेटी को रौंदा दिया। डंपर के पिछले टायर में सिर आने की वजह से दोनों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। इसी प्रकार नागदा में तेज रफ्तार कार ने बाइक सवार दंपत्ति को टक्कर मार दी। दुर्घटना में दोनों की मौत हो गई । मालीपुरा में रहने वाले आशीष माली पत्नी सोनाली और 4 साल की बेटी परी के साथ ग्राम करौंदिया स्थित सगत महाराज के मंदिर में दर्शन करने गए थे। लौटते वक्त शंकरपुर के समीप बाढ़कुमेद रोड पर डंपर ने उन्हें टक्कर मार दी। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार पीएचई ने हाल ही में इस क्षेत्र में पाइप लाइन डाली है। लेकिन गड्ढे नहीं भरे। जिस वजह से तेज रफ्तार डंपर को आता देख स्कूटी चालक ने स्कूटी को साइड मैं लेने का प्रयास किया। लेकिन गड्ढे की वजह से उनकी स्कूटी असंतुलित हो गई और स्कूटी पर सवार सोनाली और परी पीछे की तरफ जा गिरी। इस दुर्घटना में डंपर का पिछला पहिया दोनों पर चढ़कर निकल गया। दुर्घटना के बाद चालक डंपर लेकर फरार हो गया। वही मौके पर लोगों की भीड़ लग गई और तत्काल पंवासा थाना पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल पहुंचाया। क्षेत्रवासियों के अनुसार डंपर उसी क्षेत्र में रहने वाले डॉ निर्मल सोलंकी का बताया जा रहा है तथा डंपर रेत से भरा हुआ था। बताया जाता है कि डंपर को बगैर रॉयल्टी जमा किए हुए गांव के रास्ते बाढ़ कुमेद से नागझिरी ले जाया जा रहा था। क्षेत्रवासियों के अनुसार पीएचई ने 8 दिन पहले पाइप लाइन डाली थी। लेकिन गड्ढे नहीं भरे थे। इस कारण आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। पीएचई और डंपर चालक की लापरवाही की वजह से बेगुनाह मां बेटी मौत के आगोश में संमा गए। जिस जगह दुर्घटना हुई है उस मार्ग पर अधिकतर डंपर निकलते हैं । इस कारण इस क्षेत्र के लोग भी परेशान हैं जबकि यहां से निकलने वाले डंपरओं की जानकारी विभाग सहित पुलिस को भी है। लेकिन इस क्षेत्र में बेलगाम होकर धड़ल्ले से दौड़ रहे इन डंपरो पर लगाम कसने वाला कोई नहीं है।
तेज रफ्तार कार की टक्कर से बाइक सवार दंपति की मौत
 इसी प्रकार नागदा महिदपुर रोड पर  गुरुवार को दर्दनाक सड़क दुर्घटना में बाइक सवार दंपत्ति की मौत हो गई। टक्कर इतनी खतरनाक थी कि दुर्घटना के बाद दोनों बाइक सवार 50 फीट दूर जाकर गिरे। नागदा के तितरोदा गांव में रहने वाले विनोद जैन पत्नी जय श्री के साथ गांव से नागदा जा रहे थे। इसी दौरान तेज रफ्तार कार ने उन्हें पीछे से टक्कर मार दी। दुर्घटना में दोनों की मौके पर ही मौत हो गई । विनोद जैन जैन श्वेतांबर श्रीसंत तितरोद के अध्यक्ष बाबूलाल जैन के छोटे भाई थे। दंपति की मौत से आसपास सहित ग्राम तितरोदा में शोक की लहर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *