उज्जैन की युवतियों ने कपड़ा व्यापारी के भाइयों से शादी की, दो महीने बाद 8 लाख के गहने लेकर फरार

ग्वालियर में दो लुटेरी दुल्हनों का कारनामा सामने आया है। दोनों उज्जैन की रहने वाली हैं। दोनों ने 3 महीने पहले कपड़ा व्यवसायी के दो भाइयों से शादी की थी। दो महीने बाद ही घर से 8 लाख रुपए के गहने और 7 लाख रुपए लेकर फरार हो गईं।पीड़ित व्यवसायी ने बिलौआ थाना में दोनों बहुओं, उनके भाई संदीप मित्तल, रिश्ता कराने वाले समेत अन्य 6 लोगों पर FIR दर्ज कराई है। शादी के समय बताया गया था, उनके माता-पिता की मौत हो चुकी है। शादी कराने के नाम पर 7 लाख रुपए भी लिए गए थे। जांच में पता चला है, एक दुल्हन का पहले से ही एक बेटा है। उज्जैन में दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी की FIR पहले से ही दर्ज है। बिलौआ थाना क्षेत्र निवासी नागेन्द्र जैन कपड़ा कारोबारी हैं। दिसंबर 2020 में उन्होंने छोटे भाइयों दीपक जैन और सुमित जैन की शादी उज्जैन निवासी नंदनी मित्तल व रिंकी मित्तल से की थी। रिश्ता दोनों लड़कियों के भाई संदीप मित्तल के सामने तय हुआ था। रिश्ता समाज के बाबूलाल जैन ने तय करवाया था। दोनों की जाति वैश्य बनिया बताई गई थी। शादी के बाद नंदनी और रिंकी करीब 15 से 20 दिन तक ससुराल रहीं। बाद में मायके चली गईं। सुसर के कमरे में गईं तो उन्हें आया हार्टअटैक
इसके बाद वह 9 जनवरी 2021 को अपने भाइयों संदीप मित्तल व आकाश मित्तल के साथ आईं। कुछ देर तक ससुर से कमरे में कुछ बात की। इसके बाद ससुर को हार्टअटैक आ गया। गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां मौत हो गई। सुसर के तेरहवीं के बाद दोनों ने तबीयत खराब होने का बहना बनाकर घर छोड़ कर चली गईं। 8 लाख के गहने, 7 लाख नकद ले गईं घटना का पता उस समय चला, जब कई दिन बाद भी वह वापस नहीं आईं। हर बार आने की बात करती रहीं। घरवालों को शक हुआ तो कमरों की तलाश ली। पता चला कि वह दोनों बहनें घर का पूरा जेवर और 7 लाख नकद समेट ले गईं। जेवर की कीमत करीब 8 लाख रुपए है। फेसबुक से पता लगा कि शादीशुदा थी नंदनी और रिंकी
कई बार बुलाने के बाद भी जब दोनों नहीं आईं, तो उनके सोशल मीडिया अकाउंट चेक किए। पता चला कि दोनों पहले से ही शादीशुदा हैं। नंदनी का तो एक बच्चा भी है और उनकी फेसबुक ID नंदनी प्रजापति और टीना यादव के नाम से है, जबकि रिंकी मित्तल की फेसबुक ID रिंकी प्रजापति के नाम से है। संदीप मित्तल की ID संदीप शर्मा व भाभी की रीना मित्तल की ID रीना चंदेल और दूसरे भाई आकाश मित्तल की ID आकाश मराठा के नाम से मिली। साथ ही, पता चला कि उज्जैन में दोनों दुल्हनों के साथ ही उनके साथी पर शादी के नाम पर धोखाधड़ी के मामले दर्ज हैं। खुद को गरीब बताकर ऐंठ चुके थे 7 लाख रुपए

पीड़ित व्यवसायी ने बताया कि शादी इंदौर निवासी बाबू लाल जैन ने कराई थी और उन्होंने बताया था कि 2012 में तूफान आने से नंदनी और रिंकी के पिता की मौत हो चुकी है और परिवार गरीब है। इसलिए दोनों तरफ की शादी का खर्चा उठाते हुए हमने उन्हें 7 लाख रुपए नकद दिए थे। पुलिस ने रिंकी, नंदनी, आकाश, संदीप, रीना तथा बाबूलाल जैन के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *