गुंडागर्दी की तो गरीबों में बांट देंगे संपत्ति

शिवराज सरकार ला रही नया कानून
ब्रह्मास्त्र भोपाल । प्रदेश की शिवराज सरकार अपराध को रोकने के लिए एक नया कानून लाने जा रही है। नए कानून में अपराधियों का पैसा और संपत्ति गरीबों में बांटने का प्रावधान होगा। गौरतलब है कि अब तक अपराधियों की आर्थिक कमर तोड़ने के लिए उनके मकान या अन्य संपत्ति ध्वस्त कर दी जाती है। दरअसल, अवैध संपत्ति तो ध्वस्त की जाना ठीक है, लेकिन वैध संपत्ति तोड़ना देश की संपत्ति का नुकसान भी है। शायद ,इसीलिए नया कानून लेकर यह नया तरीका निकाला गया है कि दरिंदगी, दहशत और भ्रष्टाचार के जरिए कमाई गई दौलत तथा संपत्ति को गरीबों में बांट दिया जाए ,ताकि उनका भला हो सके। इसके पीछे एक संदेश यह भी है कि गुंडागर्दी की तो गरीबों में संपत्ति बांट दी जाएगी। यह सोच कितना कारगर रूप ले सकेगा, यह तो वक्त ही बताएगा। बहरहाल गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के अनुसार यह कानून उत्तर प्रदेश के गैंगस्टर एक्ट से भी ज्यादा सख्त हो सकता है। नरोत्तम मिश्रा ने मीडिया को बताया कि गृह और कानून विभाग इस बिल पर एक साथ काम करने में जुट गए हैं।
उन्होंने कहा कि इस बिल में अपराधियों का जब्त धन और संपत्ति को गरीबों में बांटने का प्रावधान भी हम ला रहे हैं। मामलों के जल्द निपटारे के लिए हम स्पेशल कोर्ट बनाएंगे और गवाहों की सुरक्षा के लिए विशेष प्रावधान किए जाएंगे। इन अपराधियों की प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से मदद करने वालों को भी सजा का प्रावधान इस बिल में किया जा रहा है। सरकार इस बिल को शीतकालीन सत्र में पेश कर सकती है। गौरतलब है कि शिवराज सिंह की सरकार लगातार अपराध को रोकने की बात कर रही हैं। हाल ही में एक वीडियो वायरल हुआ था, इस वीडियो में कुछ लोग एक आदमी को पेड़ से बांधकर मार रहे थे और इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी। पिछले दो-तीन महीनों में इस तरह की दरिंदगी करने वाले कई किस्से हुए हैं। मालवा निमाड़ में भी ऐसे मामले सामने आए हैं।
इसके बाद शिवराज सरकार ने अपराधियों के घर पर बुलडोजर चला दिया और शिवराज सिंह ने कहा था कि जो नहीं सुधरेगा उसके साथ भी यही होगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की थी कि सरकार इस तरह के अपराध को रोकने के लिए सख्त कानून लाएगी। अब इस नए कानून को बनाया जा रहा है।